आख़िरकार हो ही गया प्रद्युम्न हत्याकांड का खुलासा, इस तरह से हुई...

आख़िरकार हो ही गया प्रद्युम्न हत्याकांड का खुलासा, इस तरह से हुई थी मासूम की हत्या

0
SHARE
Loading...

आज से कुछ महीने पहले की बात करे तो दिल्ली के नामी गिरामी स्कूल “रेयान इंटरनेशनल” में एक बच्चे की बड़ी ही बेरहमी के साथ बाथरूम में क़त्ल कर दिया गया था। आपको उस वक़्त हुई क़त्ल की वह घटना शायद याद होगी। उस बच्चे के कत्ल होने के बाद देश में बच्चो की सुरक्षा को लेकर काफी बवाल किया गया था। जिसके बाद पुलिस ने कारवाई करते हुए एक कंडक्टर को उसकी हत्या में शामिल होने के शक में गिरफ्तार कर लिया था। कंडक्टर को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उससे जबरन प्रदुम्न के कत्ल की घटना को कबूल करवाया। पर जब इस मुद्दे में ऊपर जांच शुरू हुई तो यह मामला साफ़ हो गया कि कंडक्टर ने नही बल्कि उसी स्कूल के एक छात्र ने प्रदुम्न की हत्या की थी। आज उस हत्याकांड से जुडी एक ऐसी बात सामने आ रहे है जिसके बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाओगे।

Loading...

दरअसल उस वक़्त हुए प्रदुम्न हत्याकांड की जांच के दौरान पुलिस ने एक जुवेनाइल को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी के बाद सख्ती दिखाने के कारण उस जुवेनाइल ने अपने गुनाह को पुलिस के सामने कबूल कर लिया था। उसके गुनाह को कबूल लेने के बाद उसने यह खुलासा किया कि वह जब बच्चे की हत्या करने वाला था उससे पहले उसने प्रदुम्न को देख कम से कम 2-3 मिनट तक सोचा। उसके दिमाग में एक और जहाँ एग्जाम में फ़ैल होने का डर सता रहा था वही दूसरी और उसके मर्डर का प्लान भी चल रहा था।

प्रदुम्न को देखते वक़्त उसके दिमाग में यह बात चल रही थी कि यह बच्चा कितना मासूम है। प्रदुम्न की मासूमियत को देखते ही देखते उसके सर के उपर एग्जाम का डर सामने आ गया। जिसके बाद उसने गुस्से में आकर प्रदुम्न के ऊपर चाक़ू से वार कर उस मासूम बच्चे के गर्दन को ही काट डाला। आपको यह बात बता दे की इन सभी गुनाहों को उसने खुद पुलिस के सामने स्वीकार किया था।

हाल में ही उसके द्वारा किया गए खुलासे के मुताबिक ऐसा बताया जा रहा है कि उसकी तैयारी नही हो पाई थी। जिसकी वजह से वह परीक्षा को टालना चाहता था। परीक्षा टालने को लेकर किसी भी तरह का उपाय न होता देख उसने बच्चे की कत्ल का ही प्लान बना डाला। सबसे पहले वह लड़का बाथरूम गया जहाँ प्रदुम्न पहले से ही मौजूद था। तभी वह लड़का अचानक से वहाँ आ पहुँचा और उसने प्रदुम्न से कहा की भाई क्या मेरी मदद करोगे।

जिसके बाद प्रदुम्न उसकी मंशा को न भांपते हुए कहा कि हाँ भैया बोलो। जिसके बाद उसने प्रदुम्न को वही रुकने को कहा और उतने ही देर में वह अपने क्लास से चाक़ू लेकर आ गया। जिसके बाद उसने प्रदुम्न का उस चाक़ू से कत्ल कर दिया। उसने क़त्ल भी इतने सफाई से की थी की खून का एक भी धब्बा उसके कपड़ो के ऊपर नही था जिस वजह से किसी का भी उसके ऊपर शक कर पाना असंभव था।

Loading...

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY